TROPHY HUNTING जानवरों को मारकर उन्हें घर की शोभा बड़ाने के लिए दीवारों पर टांगना कहा तक सही है ? - Vice Hindi Breaking News

Translate

TROPHY HUNTING जानवरों को मारकर उन्हें घर की शोभा बड़ाने के लिए दीवारों पर टांगना कहा तक सही है ?


हालही के दिनों मे केरल मे एक गर्भवती हथ्नी की मौत हो गयी, क्यों की कुछ लोगो ने उसे बारूद से भरा अनानास खाने को दिया, जिससे उसका निकला जबड़ा फट गया जिस कारन उसकी मौत हो गयी | इससे पहले एक गर्भवती कुतिया को एक औरत ने एक लोहे की रोड से पिट पिट कर मर डाला |
 


यह तो आपको सिर्फ दो जानवरों के मरने का ही पता चला | मगर ऐसे लाखो जानवर है जिन्हें इंसानों द्वारा उनकी लालच, और शोंक के लिए मार दिया जाता है ओर किसी को कानो कान खबर नहीं होती |
Hunting Trophy की वजेह से मर दिए जाते है लाखो जानवर 
ट्राफी हंटिंग का नाम इसलिए पड़ा क्यों की शिकारी जानवर का शिकार करने के बाद उसका सर, त्वचा, या उसके शरीर का कोई अंग अपनी ट्राफी समाज कर घर ले जाता है | और अपने घर की दिवार पर सजा देता है | 
दुनिया के कई देश साउथ अफ्रीका , कनाडा , अमरीका इस के लिए बदनाम है | कई देशो मे तो इसे क़ानूनी मन्येत प्राप्त है, जेसे अमेरिका और साउथ अफ्रीका, 

  • ट्राफी हुन्तिंग के नाम पर ज़यादातर शिकार हाथी, गेंडे, शेर जैसे बड़े जनावरो का किया जाता किसकी वजह से इनकी आबादी मे भारी गिरावट आई है | 
  • शिकारी इनके कीमती अंग जैसे दन्त और खाल काले बाज़ार मे बेच कर लाखो रुपए कमाते है| 
भारत मे क्या है ट्राफी हंटिंग का स्टेटस :
भारत में ट्राफी हंटिंग गैर क़ानूनी है | मगर फिर भी यह बाघ, शेर, हाथी के कीमती अंगो के लिए बड़े पैमाने पर शिकार किया जाता है | क्यों की उनकी काले बाजार मे भारी कीमत मिलती है | सरकार इन पर रोक लगाने मे न कामियाब रही है | यही कारण है की भारत मे यह जानवर लुप्पत होने की कगार पर आ गये है | 
भारत मे ऐसे कानून है जो जानवरों के लिए बनाये गये है :
  • IPC 248, 249 के अनुसार किसी भी जानवर को  मरना या अपांग बनाना अपराध है | इसके लिये 6 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान है पर ज़यादा तर लोग इसके बारे मे नहीं जानते और जानवरों के लिए आवाज़ नहीं उठाते|
कहा तक सही है जानवरों का शिकार :
जानवरों का शिकार सरासर एक घिनोना काम है जो इंसानियत को शर्मिंदा करता है | वन्य जिव कुदरत का एक एहम हिसा है | अगर हम इनके लिए कुछ कर नहीं सकते तो हमे इनको नुकसान पहुचने का भी कोई हक़ नहीं है| 
हमे कुदरत की एहमियत समझनी होगी, क्यों की सभी को एक ही आसमान क निचे रहना है,
नहीं तो विनाश की घडी दूर नहीं|


हम जानवरों को जंगली कहते है पर इस दुनिया मे सबसे बड़ा जंगली जानवर मनुष्य खुद है| 


TROPHY HUNTING जानवरों को मारकर उन्हें घर की शोभा बड़ाने के लिए दीवारों पर टांगना कहा तक सही है ? TROPHY HUNTING जानवरों को मारकर उन्हें घर की शोभा बड़ाने के लिए दीवारों पर टांगना कहा तक सही है ? Reviewed by Vice Hindi on June 06, 2020 Rating: 5

1 comment:

Leave your comment and feedback

Powered by Blogger.